1857 सुना तो है मगर जानते भी हैं क्या इसे ?

हफ़ीज़ किदवई कोई कहता है की यह प्रथम स्वतंत्रता संग्राम था तो कोई कहता है की यह जन संघर्ष की

Read more

बेगम हज़रत महल : अंग्रेज़ों के झण्डे को दुनिया में सबसे पहले ज़मींदोज़ करने वाली।

हफ़ीज़ किदवई कुछ तारीख़ें सिर्फ़ तारीख़ भर नही होती बल्कि पूरे एक ज़माने का ढलना होती है। आज वही 7

Read more

वासुदेव बलवंत फड़के : देश का पहला क्रांतिकारी, जिससे थर-थर कांपते थे अंग्रेज़

निशा डागर अगर बात करे भारतीय स्वतंत्रता की क्रांति और उन क्रांतिकारियों की जिनकी वजह से देश को आजादी मिली

Read more

दुल्ला उर्फ़ अब्दुल्लाह भट्टी : लोहड़ी के त्यौहार में जिन्हे किया जाता है याद।

मुहम्मद सैफ़ुल्लाह हर कोई जानता है कि लोहड़ी सर्दियों में मनाया जाता है। पर क्या आपको मालूम है लोहड़ी का

Read more

वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली : जिसने भारत की आज़ादी के लिये लड़ने वाले निहत्थे पठानों पर गोली चलाने से मना कर दिया था।

Mahendra Vist वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली (25 दिसम्बर, 1891 – 1 अक्टूबर 1979) को भारतीय इतिहास में पेशावर कांड के

Read more

जिन्होंने भारत की सेवा के लिए छोड़ दिया था पाकिस्तान

   राजीव शर्मा वह दौर 1947 का था जब भारत को आजादी की सौगात के साथ बंटवारे का जख्म भी

Read more

बिरसा मुंडा : आदिवासियों और स्वतंत्रता के महानायक

सुनील सिंह ‘अबुआ दिशुम अबुआ राज’ यानि ‘हमारा देश, हमारा राज’ “मैं तुम्हें अपने शब्द दिये जा रहा हूं, उसे

Read more

मौलाना अहमदउल्लाह शाह फ़ैज़ाबादी : 1857 के शहीदों का सरदार

  मौलाना अहमद शाह शहीद एक ऐसा नाम है, जिसके जौहर का चिना पत्तम, देहली, आगरा, अवध, रोहिल खण्ड की

Read more

लीबिया के बागियों का सरदार उमर मुख़्तार जिससे परेशान हो कर मुसोलिनी को एक ही साल में चार जनरल बदलने पड़े.

  Sharjeel Usmani  सन 1929 में इटली जब लीबिया पर अपना कब्ज़ा करने की लगातार कोशिश कर रहा था तब

Read more

अमर शहीद बिरसा मुंडा : एक ज़मीनी विचारक और क्रांतिकारी योद्धा

अशोक पुणिया बिरसा मुंडा, यह नाम सुनते ही अक्सर हमारे दिमाग में एक ‘आदिवासी नायक’ का चित्र उभरता है, जिसने

Read more

बाबू कुंअर सिंह : सन् सनतावन के अगिया बैताल

कुमार नरेंद्रा सिंह ‘कुंअर सिंह एक ऐसा आदमी है, जिसने हमें 80 साल की अवस्था में एक पूर्ण पराजय का

Read more
Translate »